एजबेस्टन में टीम इंडिया की कसौटी


बुधवार से शुरू हो रहे एजबेस्टन टेस्ट के लिए टीम इंडिया को एक बार फिर मजबूत इंग्लैंड टीम का सामना करना है। इंग्लैंड को सिरीज में 2-0 की बढ़त हासिल है, इसलिए भारत पर इस मैच में अतिरिक्त दबाव होगा। 

जहां एक तरफ भारत अपने खास खिलाड़ियों के चोटिल होने से परेशान है, वहीं इंग्लैंड टीम को सिरीज में अपने घरेलू मैदानों का भरपूर लाभ मिल रहा है। एजबस्टन में हालात टेंट्रब्रिज की तरह ही होंगे, लेकिन यहां के विकेट में तेज गेंदबाजों के साथ स्पिनरों को भी अच्छी मदद मिलती रही है।
 

विकेट का मिजाज

एजबस्टन में पहले दिन तेज गेंदबाज नई गेंद से कत्लेआम मचा सकते हैं। विकेट पर हरी घास है और मौसम के कारण नई गेंद को पहले सत्र के खेल तक अतिरिक्त स्विंग मिलेगा। पिच क्यूरेटर स्टीव राउस कह भी चुके हैं कि नई गेंद की चमक निकलने तक के खेल में ग्रीन टॉप के कारण तेज गेंदबाज हावी रहेंगे, लेकिन इसके बाद पिच स्लो होगा। स्टीव के मुताबिक यहां लॉर्ड्‍स और टेंट्रब्रिज के विकेट की तरह पूरे मैच में गेंदबाज हावी नहीं रह सकते।

वारविकशायर और ससेक्स के बीच यहां पिछले महीने एक मैच खेला गया था, जहां वारविकशायर ने पहले बल्लेबाजी की और एक समय उसका स्कोर 192/6 हो गया। लेकिन बाद में उसके निचले क्रम के बल्लेबाजों ने रिकवरी करते हुए पारी को 521 तक पहुंचाया।

पिछले साल अगस्त में यहां पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच हुए टेस्ट में बल्लेबाजों को स्पिनरों से परेशानी हुई थी। पाकिस्तान के सईद अजमल और इंग्लैंड के ग्रीम स्वान ने यहां मिलकर धूम मचाई थी। विकेट में दूसरे दिन से ही स्पिनरों के लिए मदद थी। इस टेस्ट में इंग्लैंड ने चौथी पारी में बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट से जीत हासिल की थी।
 

टीम इंडिया का कॉम्बिनेशन

विकेट स्पिनरों के लिए मददगार है, इसलिए अमित मिश्रा का चयन तय माना जाना चाहिए। हालांकि टीम में एक अन्य स्पिनर प्रज्ञान ओज्ञा भी हैं, लेकिन टीम को फिलहाल लेग स्पिनर की ज्यादा जरूरत है। तेज गेंदबाजों के रूप में ईशांत शर्मा, प्रवीण कुमार और श्रीसंथ की जगह पक्की है।

वीरेंद्र सहवाग की वापसी से टीम इंडिया अपने बल्लेबाजी क्रम को व्यवस्थित कर पाएगी। गौतम गंभीर के साथ सहवाग पार शुरू करेंगे और नंबर तीन पर भारत के विश्वसनीय बल्लेबाज राहुल द्रविड़ उतरेंगे। युवराज सिंह के बाहर होने से सुरेश रैना को एक मौका और मिलेगा। वीवीएस लक्ष्मण और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी सिरीज में अपना रिकॉर्ड बेहतर करने की कोशिश करेंगे।

टीम इंडिया के लिए कॉम्बिनेशन तय करने से लेकर खिलाड़ियों की फिटनेस, फॉर्म और बल्लेबाजी क्रम निर्धारित करना अहम बात है। सिरीज में वापसी के बारे में विचार करने से पहले टीम मैनेजेमंट को इन सभी समस्याओं से पार पाना होगा।

~ by bollywoodnewsgosip on August 9, 2011.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: