प्रवीण चाहते हैं, उनकी गेंदबाजी सब कुछ बयां करे


अपने पहले टेस्ट मैच में ही छह विकेट लेने वाले मध्यम गति के गेंदबाज प्रवीण कुमार चुप रहकर ही सब कुछ बयां करने में विश्वास रखते हैं उन्होंने सफल पदार्पण के बाद न तो आलोचकों के खिलाफ मुंह खोला और ना ही खुद के कसीदे कढ़े।

प्रवीण ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में 80 रन के एवज में चोटी के छह बल्लेबाजों को आउट किया। यह आंकड़ा हालांकि यह नहीं दर्शाता कि उन्होंने जब इन विकेटों को लिया तो तब ये टीम के लिए कितने महत्वपूर्ण थे।

इसके बाद जब प्रवीण संवाददाता सम्मेलन में आए तो वह चंद मिनट तक चली। उन्होंने अंपायर डेरेल हार्पर के खिलाफ अपना थोड़ा गुस्सा उतारा जिन्होंने कम से कम छह गलत फैसले किए लेकिन डेढ़ मिनट बाद ही उन्होंने हाथ खड़ा कर दिया और पत्रकारों से कहा कि क्या वह जा सकते हैं।

प्रवीण को हमेशा से एकदिवसीय क्रिकेट का खिलाड़ी माना जाता रहा है। नई गेंद का विशेषज्ञ गेंदबाज जो 11वां ओवर नहीं कर सकता। ऐसा तब माना जाता था जबकि उन्होंने 39 प्रथम श्रेणी मैच में 13 बार पांच या इससे अधिक विकेट लिए थे जिनमें रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप के फाइनल का 32-8-68-8 का आंकड़ा भी शामिल है।

कभी भाग्य ने प्रवीण का साथ नहीं दिया लेकिन यह भाग्य ही था जो कि वह टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने में सफल रहे। प्रवीण को एकदिवसीय श्रृंखला के बाद लौट जाना था लेकिन जहीर खान और एस श्रीसंत चोट के कारण टीम से हट गए जबकि मुनाफ पटेल कोहनी की चोट के कारण मैच में नहीं खेल पाए।

प्रवीण को उनकी स्विंग गेंदबाजी के अलावा जो अन्य चीज दूसरों से अलग करती है। वह है उनकी चुटीले अंदाज में की गई बातें। एक बार उन्होंने कहा था कि चौके की तुलना छक्के जड़ना आसान होता है।

अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी और प्रवीण का जन्मदिन एक ही दिन पड़ता है लेकिन दोनों में कोई समानता नहीं। रिपोर्टों के अनुसार एक बार मेरठ की गलियों में किसी डॉक्टर की गाड़ी ने प्रवीण पर कीचड़ के छींटे डाल दिये थे तो इस क्रिकेटर ने उन्हें पीट दिया था।

प्रवीण के पास गेंद को स्विंग कराने की नैसर्गिक प्रतिभा है लेकिन अब उन्होंने आउटस्विंगर को भी अपने अस्त्रों में जोड़ दिया है। जब वह स्टंप के करीब से इनस्विंगर कराते हैं तो बल्लेबाज परेशानी में पड़ जाते हैं।

अब जबकि अगला मैच बारबाडोस में उछाल वाली पिच पर खेला जाएगा तब प्रवीण की निगाहें वहां अच्छा प्रदर्शन करके अगले महीने के इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में जगह बनाने पर टिकी रहेंगी।

~ by bollywoodnewsgosip on June 26, 2011.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: