अमिताभ भी थे बारातों के ‘घुसपैठिए’


स्कूल और कॉलेज में रहते हुए अगर आप अनजान लोगों की बारातों में घुस-घुस कर खाना खाने के शौकीन हैं, तो इस मामले में अमिताभ बच्चन को अपना आदर्श बना सकते हैं। बॉलीवुड के महानायक भी अपने कॉलेज के दिनों में उधार के कपड़े पहन कर ‘बारातों में गेट क्रैशिंग’ करने के शौकीन हुआ करते थे।

अमिताभ ने ‘आरक्षण’ की शूटिंग के दौरान अपने कॉलेज के दिनों को याद करते हुए अपने ब्लॉग पर लिखा कि फिल्म के सेट पर हम कॉलेज और यूनिवर्सिटी के दिनों को याद कर रहे थे। कैसे होस्टल में, खाने के लाले हुआ करते थे और हमारी जेबें भी अक्सर खाली रहती थीं। उस समय हमने बढ़िया खाना खाने का एक अद्भुत तरीका निकाल लिया था।

उन्होंने लिखा कि हम लोगों की नजर बारातों पर लगी रहती थी। आसपास बारात होने पर हम, कहीं से अच्छे कपड़े उधार माँगते थे और बारात में ‘गेट क्रैश’ करके बढ़िया-बढ़िया खाना खाते थे।

अमिताभ ने लिखा है कि वह और उनके साथी खुद को ‘लड़के वालों की तरफ से आए मेहमानों’ के तौर पर प्रस्तुत करते थे क्योंकि वही लोग होते हैं, जिनकी ‘सबसे ज्यादा खातिरदारी’ होती है।

अमिताभ के मुताबिक, ‘शेरवुड कॉलेज में रहते हुए कई बार ऐसा होता था, जब दिल्ली जाने के लिए टिकट खरीदने के भी पैसे नहीं होते थे। ऐसे में आप क्या करेंगे।’

उन्होंने कहा कि ऐसे में होता यही था कि आपको काठगोदाम से चलती गाड़ी पकड़नी पड़ती थी, ताकि कोई आपको पकड़ न सके और दरवाजे पर बैठ कर पूरी यात्रा करनी होती थी। अगर कोई ऐसा टीसी मिले, जो आप पर दया करके आपको अंदर आने दे, तब तो ठीक, नहीं तो वैसे ही जाना पड़ता था।

अमिताभ ने कहा कि और अगर कोई ऐसा टीसी न मिले, तब तो आप को एक डिब्बे से दूसरे डिब्बे तक भागना ही पड़ता था या फिर एक ही रास्ता बचता था, और वह था ‘टॉयलेट में छिपना।

Msn India

~ by bollywoodnewsgosip on February 22, 2011.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: